Warning: copy(/home/starstel/public_html/blog/wp-content/wflogs//GeoLite2-Country.mmdb): failed to open stream: No such file or directory in /home/starstel/public_html/blog/wp-content/plugins/wordfence/lib/wordfenceClass.php on line 1807
क्या होते हैं पंचक, जानिए उनके प्रकार एवं महत्व | Starstell Astrology- Live Astrology Blog By Experts

क्या होते हैं पंचक, जानिए उनके प्रकार एवं महत्व

ज्योतिष शास्त्र में 27 नक्षत्रों का विवरण है मुहूर्त विचार में तिथि, बार के अलावा नक्षत्रों का विशेष योगदान होता है। नक्षत्रों के क्रम में अन्त के पांच नक्षत्र  धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद, रेवती नक्षत्र पंचक की श्रेणी में आते हैं। पंचक के दौरान कुछ खास कार्य वर्जित होते हैं हर महीने पंचक आते हैं ज्योतिष में पंचक के दौरान किसी की मृत्य हो जाना बहुत ही अशुभ माना जाता है और इस स्थिति में विशेष शान्ति करवानी पडती है। इसके अलावा पंचक में खरीद फ़रोख्त, यात्रा और संस्कारादि कराने का विचार विशेष परिस्थितियों में किया जाता है

शांतिपूर्ण कल के लिए आज परामर्श करें! स्वास्थ्य और खुशी, प्रगति और समृद्धि का आनंद लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *